खास बात

जिंदगी की जद्दोजहद पर आधारित विचार

14 Posts

62 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8248 postid : 56

नुकसान नहीं आईपीएल के फायदे भी देखें

Posted On: 11 Apr, 2012 sports mail में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

iplइंडियन प्रीमियर लीग अर्थात आईपीएल आते ही हर तरह का बाजार गर्म हो जाता है. मीडिया से लेकर बॉलीवुड में इसको लेकर चर्चाए शुरू हो जाती है. इन सब चर्चाओं के बीच एक चर्चा ऐसी होती है जो हर आईपीएल के सीजन में देखी जाती है वह है आईपीएल के आने से……………………


.टेस्ट मैच जैसे बुनियादी खेल को काफी नुकसान होगा

.अंतरराष्ट्रीय मैचों में खिलाड़ी अपनी टीम के लिए टाइम नहीं दे पाएंगे

.बड़ी संख्या में खिलाड़ी अपने आप को अनफिट महसूस करेंगे

.चियर्स गर्ल्स के आने से हमारे समाज पर बुरा असर पड़ेगा आदि


अब मेन मुद्दा यह है कि क्या हम जिन्दगीभर आईपीएल के नुकसान के बारे में सोचकर रोते रहेंगे. उसकी गरिमा और महत्व को लेखों, आर्टिकल तथा टिपण्णी के माध्यम से कम करने की कोशिश करेंगे. हर क्रिया की प्रतिक्रिया जरूर होती है, उसी तरह किसी भी चीज की नकारात्मक पहलू के साथ सकारात्मक पहलू भी होते है जिस पर नजर डालने की जरूरत है.


हम आप सभी जानते हैं कि आईपीएल एक अंतराष्ट्रीय स्तर का खेल है जिसमे विश्व के बड़े-बड़े खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में भाग लेते हैं. इंग्लिश प्रीमियर लीग के तर्ज पर बनाई गई आईपीएल ने थोड़ी ही समय में विश्व के मंच अपना फताका लहरा दिया है. अपने सफल आयोजन की बदौलत भारत और बीसीसीआई को ज्यादा फायदा हो रहा है. भारत की शाख में लगातार बढोतरी हो रही है. इस तरह का सफल आयोजन करके भारत दुनिया को यह बता रहा कि हम किसी भी बड़े इवेंट को आयोजन करने में सक्षम है. इससे भारत आगे विश्व के सामने ओलंपिक की दावेदारी भी कर सकता है.


देश में आईपीएल के होने से हमारे अपने उन खिलाडियों को देखने का मौका मिल रहा है जो कभी हासिए के कगार पर खड़े थे. अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलना उनके लिए दूर की कौड़ी साबित थी. आज जब आईपीएल में उन्हें खेलने का मौका मिल रहा है तो उनके साथ-साथ उनके परिवार की स्थिति भी काफी सुधरी है. बड़े और विश्व स्तर के खिलाड़ियों के साथ खेलने का अवसर मिल रहा है. अपने खेल से उन्हें काफी नाम और पहचान तथा अच्छे प्रदर्शन के बाद अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने का मौका मिलता है. रविद्र जडेजा, विराट कोहली, विनय कुमार आदि जैसे खिलाड़ी आईपीएल के रास्ते एकदिवसीय मैचों तक पहुंचे.


जहां आईपीएल ने खेल के रूप में भारत की पहचान विश्व के मंच पर रखा है वही दूसरी तरफ इसी आईपीएल ने देश में रोजगार भी पैदा करता है. इसलिए इसके बंद होने की कल्पना करने वाले एक तरह से एक उद्योग के बंद होने की बात करते हैं. जिसमे रोजागर करने वालों की संख्या हजारो तक है. जरूर आईपीएल से कुछ खामिया हो सकती है लेकिन खामियों के साथ कोई उद्योग अधिक लाभ रोजगार देता है तो यह बड़ी बात है.




Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

11 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

dineshaastik के द्वारा
May 12, 2012

यमुनाजी आपके आलेख  की  तार्किक   बातों  से पूर्णतः सहमत…

    Jamuna के द्वारा
    May 22, 2012

    दिनेश जी प्रतिक्रिया देने के लिए धन्यवाद

pritish1 के द्वारा
May 10, 2012

mere rachna ko pasand karne ke liye dhanyabad…….. aap rachna ka dusra bhag awasya padhieyega ‘aisi ye kaisi tamanna hai’ main jald hi post karunga i am sure aapko accha lagega …………rate likes aur comments jarur kijiyega meri rachnaon main

चन्दन राय के द्वारा
May 3, 2012

जमुना जी , आपने अपने आलेख में मेरे दिल की बात कह दी ,. निश्चित ही आज क्रिकेट में कितने युवाओं का करियर , बिना खेले ही अंधकार में डूब जाता है , इस परिपेक्ष्य में IPL इनके लिए नै दरवाजे खोल रहा है , देर कर आप के पास आया क्षमा प्रार्थी हूँ उत्तम आलेख

    Jamuna के द्वारा
    May 3, 2012

    चंदन जी, आपको धन्यवाद जो आपने हमारे ब्लॉग पर प्रतिक्रिया दी

rajeevsharma के द्वारा
April 14, 2012

य़ह कह सकते है खाय़े जाओ  खिलाये जाओ

    Jamuna के द्वारा
    May 3, 2012

    राजीव जी धन्यवाद

dineshaastik के द्वारा
April 12, 2012

जमुना जी सच  कहा आपने हमें इसको दूसरे पहलू से भी देखना चाहिये।

    Jamuna के द्वारा
    April 12, 2012

    धन्यवाद……….

Chhama Goswami के द्वारा
April 11, 2012

बिलकुल सही कहा आपने हर बात के दो पहलु होते हैं और ज्यादातर हम अच्छे पहलुओ को नज़रंदाज़ कर देते हैं|

    Jamuna के द्वारा
    April 12, 2012

    धन्यवाद जी,


topic of the week



latest from jagran